Home > प्रदेश > कांग्रेस के पूर्व सांसद का आरोप, BJP से पैसे लेकर मणिशंकर अय्यर ने पीएम नरेंद्र मोदी को कहा था ‘नीच’

कांग्रेस के पूर्व सांसद का आरोप, BJP से पैसे लेकर मणिशंकर अय्यर ने पीएम नरेंद्र मोदी को कहा था ‘नीच’

मनोज जैन, शाजापुर: वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व सांसद सज्जन सिंह वर्मा ने मणिशंकर अय्यर पर गंभीर आरोप लगाए हैं. सज्जन सिंह वर्मा ने आरोप लगाया कि गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान मणिशंकर अय्यर ने जानबूझकर पीएम नरेंद्र मोदी पर अभद्र टिप्पणी की थी. उन्होंने कहा कि मणिशंकर अय्यर ने बीजेपी से पैसे लेकर पीएम मोदी को ‘नीच’ कहा था. यह पूरा मामला पहले से ही तैयार था. तय प्लान के तहत मणिशंकर अय्यर की जुबान से अभद्र शब्द निकलते ही पीएम मोदी सहित बीजेपी के सारे नेताओं ने इसे लपक लिया और गुजरात चुनाव के दौरान इसका जोर शोर से प्रचार किया. गुजरात चुनाव परिणाम से भी साबित हो गया है कि दूसरे चरण की वोटिंग में बीजेपी को ज्यादा सीटें आई हैं.

‘बीजेपी के एजेंट हैं असदुद्दीन ओवैसी’
कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव सज्जन सिंह वर्मा ने आरोप लगाया कि मणिशंकर अय्यर और AIMIM के असदुद्दीन ओवैसी बीजेपी के एजेंट हैं. दोनों बीजेपी को फायदा पहुंचाने के लिए राजनीति करते हैं. पूर्व कांग्रेस सांसद सज्जन सिंह वर्मा शाजापुर जिले के कालापीपल में कांग्रेस के 132वें स्थापना दिवस पर जनसभा को संबोधित कर रहे थे.

‘कांग्रेस बनवाएगी राम मंदिर’
सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि बीजेपी वाले कभी भी अयोध्या में राम मंदिर नहीं बनवाएंगे. अयोध्या में राम मंदिर कांग्रेस वाले ही बनवाएंगे. उन्होंने कहा कि बीजेपी राम का नाम केवल वोट के लिए करती है, जबकि इतिहास गवाह है कि कांग्रेस समाज के हर तबके के लोगों के हितों का ख्याल करती है. जहां तक अयोध्या में राम मंदिर बनवाने की बात है तो यह काम भी कांग्रेस ही पूरा करेगी.

‘युवाओं को आगे करे कांग्रेस पार्टी’
मालूम हो कि सज्जन सिंह वर्मा लंबे समय से कांग्रेस की बागडोर युवाओं को देने के बात कहते रहे हैं. मध्य प्रदेश की राजनीति में भी सज्जन सिंह कांग्रेस का अगुवा युवा को बनाने की मांग करते रहे हैं. सज्जन सिंह ने कांग्रेस की स्थापना दिवस समारोह में ये भी कहा कि पार्टी आलाकमान को तय करना चाहिए कि 60 साल या इससे ज्यादा उम्र के नेताओं को चुनाव का टिकट नहीं दिया जाए.

मालूम हो कि मध्य प्रदेश में 2018 में विधानसभा चुनाव होने हैं. ऐसे में यहां कांग्रेस का एक खेमा ज्योतिरादित्य सिंधिया की अगुवाई में चुनाव लड़ने की मांग कर रहे हैं तो दूसरा खेमा एक बार फिर से कमलनाथ और दिग्विजय सिंह के चेहरे को आगे कर चुनाव में उतरने की बात कर रहे हैं.

Facebook Comments
error: Content is protected !!