Home > विज्ञान > चीनी वैज्ञानिकों से हुई बड़ी गलती; धरती से टकराएगा स्पेस लैब, भयंकर तबाही का है अंदेशा

चीनी वैज्ञानिकों से हुई बड़ी गलती; धरती से टकराएगा स्पेस लैब, भयंकर तबाही का है अंदेशा

बीजिंग: चीनी वैज्ञानिकों की गलती से दुनिया में एक बड़ा हादसा होने की आशंका है. चीन ने मंगलवार को कहा कि उसकी पहली मानवरहित स्पेस लैब (अंतरिक्ष प्रयोगशाला) टीयांगोंग-1 नियंत्रित स्थिति में धरती से टकराएगी. इस टक्कर से पृथ्वी को कोई नुकसान नहीं होगा. अनुमान है कि यह अगले कुछ महीनों में पृथ्वी से टकरा सकती है. चीन की एकेडमी ऑफ स्पेस टेक्नोलॉजी के वरिष्ठ वैज्ञानिक झू जोंगपेंग ने यहां कहा, ‘वापस आती अंतरिक्ष प्रयोगशाला पर हमारी पैनी नजर है. धरती की कक्षा में प्रवेश करते ही इसका अधिकतर हिस्सा जल जाएगा. बाकी बचे इसके टुकड़े प्रशांत महासागर में गिरेंगे.’ वैज्ञानिकों के आश्वासन के बाद भी ये आशंका है कि अगर स्पेस लैब का मलबा किसी रिहायशी इलाके में गिरता है तो बड़ी तबाही हो सकती है. हालांकि चीन के वैज्ञानिक इस संभावित खतरे को टालने के लिए जी जान से लगे हुए हैं.

जिस भी इलाके में गिरेगा, कैंसर फैलाएगा स्पेस लैब का मलबा
हाल में पश्चिमी देशों के मीडिया में ऐसी खबरें आई थीं कि चीन ने अपनी स्पेस लैब पर नियंत्रण खो दिया है. जल्द ही वह पृथ्वी से टकराएगी और उससे निकलने वाला जहरीला रसायन कई देशों में लोगों को कैंसर का मरीज बना सकता है. चीन ने 2011 में इस स्पेस लैब को अंतरिक्ष की कक्षा में भेजा था. अंतरिक्ष में स्थायी प्रयोगशाला स्थापित करने के प्रयासों में जुटे चीन के लिए इसे मील का पत्थर माना गया था.

Space lab
चीन के स्पेस लैब का नाम टीयांगोंग-1 है. प्रतीकात्मक तस्वीर साभार: Reuters

अंतरिक्ष में फाइव स्टार होटल बना रहा है रूस
यह बात सुनकर भले ही आप चौंक रहे हों कि अंतरिक्ष में भला फाइव स्टार होटल कैसे बन सकता है, पर ये सच है. ऐसा इसलिए है, क्‍योंकि वैज्ञानिक अगर चाह लें तो क्‍या नहीं कर सकते हैं. तभी तो रूस की स्पेस एजेंसी रॉसकासमॉस आईएसएस यानि इंटरनेशनल स्‍पेस स्‍टेशन पर फाइव स्टार होटल बनाने के लिए काम शुरू कर चुका है, ताकि दुनिया के कुछ अमीर टूरिस्ट अंतरिक्ष में उड़ते फाइव स्टार होटल मैं रात दिन बिताने के मजे ले सकें.

अंतरिक्ष को टूरिस्ट प्लेस बनाने की तैयारी
कुछ मीडिया सूत्रों द्वारा जारी की गई एक रिपोर्ट में बताया है कि रूस की स्पेस एजेंसी द्वारा इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन में बनाए जाने वाले इस लग्जरी ऑर्बिटल फाइव स्टार होटल में होंगे 4 प्राइवेट रूम्‍स. इन लग्जरी सुइट में 2 क्यूबिक मीटर के बराबर की स्‍पेस होगी. साथ ही यहां के हर एक केबिन में नीचे की ओर एक ऐसी जगह भी दी होगी जहां से टूरिस्ट 400 मील की ऊंचाई से पृथ्वी का ऐसा शानदार नजारा देख पाएंगे जो उनका दिल खुश कर देगा.

Facebook Comments
error: Content is protected !!