Home > दुनिया > डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, ईरान पर प्रतिबंधों को लेकर जल्द फैसला करेगा अमेरिका

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, ईरान पर प्रतिबंधों को लेकर जल्द फैसला करेगा अमेरिका

वॉशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि वह जल्द ही इस बारे में फैसला करेंगा कि ईरान पर फिर से प्रतिबंध लगाने हैं या नहीं. ईरान और दुनिया के छह प्रमुख राष्ट्रों-अमेरिका, ब्रिटेन, रूस, फ्रांस, चीन और जर्मनी के बीच ऐतिहासिक परमाणु करार पर हस्ताक्षर होने के बाद 2015 में तेहरान के खिलाफ लगे प्रतिबंधों को हटा लिया गया था. ट्रंप ने बीते अक्तूबर में ऐलान किया था कि यह अमेरिका की ओर से किए गए अब तक के समझौतों में से एक बेहद खराब और एक तरफ झुका हुआ समझौता था. उन्होंने ईरान पर समझौते के ‘ उल्लंघनों ’ का आरोप लगाया था और वादा किया था कि समझौतों की कई खामियों को दूर करने के लिए वह कांग्रेस के साथ मिलकर काम करेंगे.

ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा कि वह जल्द ही इस बारे में फैसला करेंगे कि ईरान पर फिर से प्रतिबंध लगाने हैं या नहीं लगाने हैं. वरिष्ठ रिपब्लिकन सीनेटर मार्को रूबियो ने कहा है कि बराक ओबााम के समय हुए समझौते में बहुत खामियां हैं और ईरान को प्रतिबंधों से छूट नहीं दी जानी चाहिए. फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने ट्रंप के साथ टेलीफोन वार्ता के दौरान 2015 में हुए ईरान परमाणु समझौते के क्रियान्वयन में सहयोग देने की प्रतिबद्धता जताई थी.

ईरान, जर्मनी और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के पांच स्थाई सदस्यों – ब्रिटेन, चीन, फ्रांस, रूस और अमेरिका के बीच जुलाई 2015 में जेसीपीओए समझौता हुआ था. इस समझौते के तहत ईरान आर्थिक मदद और खुद पर लगे अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबंधों को हटाने की एवज में अपने परमाणु हथियार कार्यक्रमों को रोकने पर सहमत हुआ था. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अक्टूबर 2017 में इस समझौते को रद्द करने का आह्वान करते हुए ईरान पर समझौते का कई बार उल्लंघन करने का आरोप लगाया था, जिसे ईरान ने सिरे से खारिज कर दिया था.

Facebook Comments
error: Content is protected !!