Home > देश > ये है भिलाई का ‘गूगल ब्वॉय’, 2 साल 10 महीने में बना GK का ‘मास्टर माइंड’

ये है भिलाई का ‘गूगल ब्वॉय’, 2 साल 10 महीने में बना GK का ‘मास्टर माइंड’

भिलाई : छत्तीसगढ़ के भिलाई शहर से एक नया ‘गूगल ब्वॉय’ सामने आया है. 2 साल 10 महीने उम्र का एक छोटा सा बालक दिखने और हरकतों में एकदम साधारण बालकों की तरह ही है. लेकिन जब आप इससे सामन्या ज्ञान के सवाल करते हैं तो यह ‘वंडर किड’ में बदल जाता है और आप इसके जवाब सुन दातों तले उंगलियां दबाने को मजबूर हो जाते हैं. भिलाई के इस जीते-जागते वंडर किड विराट अय्यर की विलक्षण क्षमता ही है जिसके चलते लोग इसे ‘गूगल ब्वॉय’ भी बुलाते हैं.

तुतलाती आवाज में देता है सारे सवालों का जवाब
2 साल और 10 महीने का विराट बहुत ही तेज है. इस बच्चे के ‘ज्ञान’ के सामने बड़े से बड़े छोटे हो जाते हैं. क्योंकि इस बालक की याद्दाश्त के आगे बड़े-बड़ों का सामान्य ज्ञान भी जीरो हो जाता है. महज ढाई साल के विराट अय्यर आपको चंद मिनटों में देश-दुनिया, ज्ञान, विज्ञान, अर्थव्यवस्था, ऑटोमोबाइल, आविष्कार, मशहूर हस्तियों की उपलब्धि और उनके नाम से परिचय करा सकते हैं. बस जरूरत होती आपके एक सवाल की. सवाल सुनकर नन्हा ‘गूगल ब्वॉय’ अपनी तुतलाती आवाज में उसका सही जवाब बताकर विकीपीडिया को भी मात दे देता है.

गूगल ब्वॉय को बहुत कुछ पता है
आप इस गूगल ब्वॉय विराट के ज्ञान का अनुमान इसी बात से लगा सकते हैं कि उसे दुनिया के 50 से भी ज्यादा देशों की राजधानी के नाम जुबानी याद हैं. इसके अलावा भारत के सभी राज्यों की राजधानी, धार्मिक देवी देवताओं, भारतीय त्योहारों, भारत की मशहूर हस्तियों के साथ ही फेसबुक, पेप्सिको और माइक्रोसाफ्ट जैसी ग्लोबल कंपनियों के सीईओ के नाम भी वो झट से बता देता है. गुलाम भारत की आजादी के लिए लगाए नारे कब किसने दिया, ये तक विराट चंद सेकंड में बता देता है. गूगल ब्वॉय को ये तक पता है कि गुरुत्वाकर्षण का नियम न्यूटन ने खोजा था. भारत के पहले राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के अलावा 150 से ज्यादा जीके के प्रश्नों का जवाब विराट बिना रुके दे सकता है.

5 भाषाएं समझ लेता है गूगल ब्वॉय
जिस उम्र में बच्चे ठीक से बोल भी नहीं पाते उस उम्र में विराट न सिर्फ 5 भाषाएं समझता है बल्कि बोलता भी है. विराट इंग्लिश, हिंदी, तमिल, तेलगु के अलावा मराठी भाषा भी बखूबी समझता है. इसके अलावा किसी भी कार को देखकर उसका मॉडल नंबर और नाम बता सकता है. सबसे बड़ी बात एक बार कही हुई बात उसे तुरंत याद हो जाती है. वह उन बातों को किसी भी वक्त दोहरा सकता है.

4 महीने की छोटी से उम्र में देने लगा था रिएक्शन
विराट की मां बताती हैं कि जब वह महज 4 महीने का था, तब से बातों पर रिएक्शन देता था. उस दौरान वह उसको लोरी की जगह इंग्लिश, हिंदी की कविता सुनाती थीं. सात महीने में वह फल, सब्जियों, जानवर, पक्षियों के नाम लेने पर उसके मॉडल हाथ में थमा देता था. एक साल की उम्र तक इंग्लिश के अल्फाबेड ए से जेड तक विराट को याद हो गया था. तब उन्हें अहसास हुआ कि उनके बच्चे का आईक्यू सामान्य बच्चों से कहीं ज्यादा है. अब वे प्रकृति प्रदत्त बुद्धि को परिष्कृत करने में जुट गए हैं ताकि अपने ज्ञान से विराट देश और दुनिया में छत्तीसगढ़ को एक नई पहचान दिला सके.

Facebook Comments
error: Content is protected !!