अमेरिका: मरीज को गलत समय पर इंजेक्शन लगाने पर भारतीय अमेरिकी सर्जन ने नर्स का गला घोंटा

0
70

वॉशिंगटन: मरीज को ‘‘गलत समय’’ पर इंजेक्शन देने से नाराज एक भारतीय अमेरिकी सर्जन ने इलास्टिक से अपनी नर्स का गला घोंटने की कोशिश की. पुलिस ने बताया कि वेंकटेश सास्तकोणार (44) ने अपने वकील के जरिए इन आरोपों से इनकार किया और कहा कि 22 जनवरी को हुई इस घटना को बढ़ा चढ़ाकर पेश किया गया है.

गलत समय पर दिया इंजेक्शन
न्यूयॉर्क स्थित नासाउ यूनिवर्सिटी मेडिकल सेंटर में वजन कम करने में मदद करने वाले सर्जन के खिलाफ गला घोंटने और हमला करने आरोप लगाए गए हैं. पुलिस ने आरोप लगाया कि उसने 51 वर्षीय नर्स के जीवन को खतरे में डाला. शिकायत के अनुसार सर्जन ‘‘इस बात से नाराज था कि नर्स ने उसके मरीज को गलत समय पर इंजेक्शन लागाया था’’.

ऐसे दिया घटना को अंजाम
आपराधिक शिकायत के अनुसार इसके बाद, सस्तकोणार नर्स के पीछे आया और उसने अपनी स्वैटशर्ट से इलास्टिक निकाली और उसे उसके गले के चारों ओर लपेट दिया. इसके बाद, नर्स का दम घुटने लगा और उसे बहुत दर्द हुआ. शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया कि सर्जन ने नर्स को धमकाया और कहा, ‘‘मैं इसके लिए तुम्हारी हत्या कर सकता हूं.’’

इस घटना के बाद, नासाउ यूनिवर्सिटी मेडिकल सेंटर से सर्जन को निलंबित कर दिया गया. उसे मंगलवार को 3,500 डॉलर नकद की जमानत पर रिहा किया गया.

10 साल से दोस्त हैं नर्स और सर्जन
पुलिस ने नर्स का नाम उजागर नहीं किया है. गले में अत्यधिक दर्द के कारण नर्स का उपचार किया जा रहा है. चिकित्सक के वकील मेल्विन रोथ ने दावा किया है कि उनके मुव्वकिल की मंशा नर्स को नुकसान पहुंचाने की नहीं थी. उसने कहा कि चिकित्सक एवं नर्स पिछले 10 साल से दोस्त हैं और तार नर्स की त्वचा को छू भी नहीं पाई.

रोथ ने न्यूयॉर्क में लॉन्ग आइलैंड के स्थानीय ‘न्यूज 12’ चैनल से कहा कि सर्जन थोड़े गुस्से में था और थोड़ा मजाक कर रहा था. उन्होंने कहा, ‘‘तार ने नर्स की त्वचा को छुआ तक नहीं. यह घटना के बारे में हमारा बयान है. वह किसी भी तरह से नर्स को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहता था. उसे कोई नुकसान नहीं पहुंचा.’’