पिस्तौल लेकर जयपुर पहुंचे थे शशि थरूर, जांच के लिए रोके गए

0
69

जयपुर: पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस सांसद शशि थरूर विवादों में फंस गए हैं. शशि थरूर पिस्तौल लेकर जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2018 में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे थे. जयपुर एयरपोर्ट पर जांच के दौरान उन्हें रोक लिया गया. पूछताछ के लिए शशि थरूर को  करीब आधे घंटे तक एयरपोर्ट पर रोका गया. जांच में पता चला कि शशि थरूर लाइसेंसी पिस्तौल लेकर आए थे. हालांकि एयरपोर्ट प्रशासन की ओर से ये नहीं बताया गया है कि आखिर शशि थरूर किस वजह से पिस्तौल लेकर लिटरेचर फेस्टिवल में आए थे. फिल्म पद्मावत को लेकर करणी सेना की ओर से जारी विरोध-प्रदर्शन के चलते पूरे राजस्थान में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है. इन्हीं विरोध के बीच जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल का आगाज हुआ है.

दरअसल, नियमों के मुताबिक लाइसेंसी पिस्टल को विमान से लाते समय उसे एयरलाइन को सुपुर्द कर दी जाती है. शशि थरूर ने भी अपनी पिस्टल एयरलाइन को दे दी थी. इसके बाद जयपुर में पिस्टल सुपुर्दगी के दौरान समय लगा. विमान से एस्कॉर्ट के साथ पिस्टल एयरपोर्ट बिल्डिंग में लाई गई और कागजी पूर्ति के बाद शशि थरूर को सुपुर्द कर दी गई. इस दौरान करीब 35 मिनट तक थरूर बिल्डिंग के अराइवल एरिया में चक्कर लगाते रहे.

इससे पहले गुरुवार को ‘जी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल’ के 11वें संस्करण की भारतीय संस्कृति की छठा के साथ शुरुआत हुई. फेस्टिवल का आगाज डीएनए इंडिया की कंटेंट एडवाइजर श्रेयांशी गोयनका, जी रीजनल सीईओ जगदीश चन्द्र, राजस्थान की पूर्व राज्यपाल मार्गेट आल्वा, सीईओ जेएलएफ संजोय के. रॉय, नमिता विलियम सहित कई गणमान्य लोगों ने फ्रंट लॉन में की.

कार्यक्रम की शुरुआत मीता पंडित की स्वरी लहरी के साथ हुई. यहां साहित्यकार अलग-अलग विषयों पर चर्चा करेंगे. इस पांच दिवसीय फेस्टिवल के लिए डिग्गी पैलेस को दुल्हन की तरह सजाया गया है. कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए आने वाले अतिथियों का विशेष ध्यान रखा जा रहा है. सुरक्षा-व्यवस्था भी चाकचौबंद है. फेस्टिवल के इस 11वें संस्करण में कई मशहूर हस्तियां शामिल होंगी. आपको बता दें कि  जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2018 में 5 दिनों तक 181 सेशन का आयोजन होगा जिसमें लगभग 400 साहित्यकार भाग लेंगे.

Zee JLF 2018, JLF 2018, Jaipur Literary Festival, जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल, जयपुर
जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2018 का रंगारंग आगाज.

दीप प्रज्जवलन के साथ हुआ आगाज
जी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2018 का आज रंगारंग कार्यक्रम के साथ आगाज हुआ. 5 दिनों तक जयपुर के डिग्गी पैलेस में आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम का मुख्य समारोह फ्रंट लॉन में आयोजित हुआ. फेस्टिवल के उद्घाटन में जेएलएफ सीईओ संजोय रॉय ने लिटरेचर फेस्टिवल की जर्नी के बारे में अवगत करवाया तो वहीं नमिता और विलियम ने देश-विदेश से आए हुए साहित्यकारों को शुभकामनाएं दीं.

डीएनए इंडिया की कंटेंट एडवाइजर श्रेयांशी गोयनका ने सभी साहित्यकारों को शुभकामनाएं दीं साथ ही कहा कि जयपुर में आयोजित होने वाले इस साहित्य कुंभ ने पिछले कुछ सालों में अपार सफलता हासिल की है साथ ही आने वाले सालों में इसकी लोकप्रियता और बढ़े इसके भी प्रयास करने होंगे. दीप प्रज्वलनल के साथ फेस्टिवल का आगाज हुआ.

Zee JLF 2018, JLF 2018, Jaipur Literary Festival, जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल, जयपुर
जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2018 में उमड़ी भारी भीड़.

उद्घाटन सत्र के बाद 6 पांडालों में होने वाले 32 सेशन भी एक-एक कर शुरू हो गए.