Home > देश > गोवा सबसे पसंदीदा जगहों में से एक, केंद्र सरकार के स्वच्छ भारत अभियान में सबसे गंदा पाया गया

गोवा सबसे पसंदीदा जगहों में से एक, केंद्र सरकार के स्वच्छ भारत अभियान में सबसे गंदा पाया गया

नई दिल्लीः गोवा केंद्र सरकार के महत्वाकांक्षी स्वच्छ भारत अभियान में सबसे गंदा पाया गया है. इस अभियान के तहत राज्य के किसी भी जिले को खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) घोषित नहीं किया गया है. गोवा के अलावा देश के दो और राज्य, बिहार और मणिपुर भी ओडीएफ सूची में निचले स्थान पर हैं. चौंकाने वाली बात यह है कि गोवा में सिर्फ दो जिले हैं, जबकि बिहार में 38 और मणिपुर में नौ जिले हैं.

चुनौती से तुरंत निपटने की जरूरत
पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय के सचिव परमेश्वरन अय्यर ने कहा, ‘‘दुर्भाग्य से गोवा में एक भी जिला खुले में शौच मुक्त नहीं है. हमें यह जानने की आवश्यकता है कि राज्य को इस संबंध में क्या दिक्कतें आ रही हैं.’’ अधिकारियों का मानना है कि दुनिया के सबसे मशहूर पर्यटन स्थलों में से एक होने के कारण राज्य की इस चुनौती से निपटने की तत्काल जरूरत है. प्रक्रिया में तेजी लाने और कारणों का पता लगाकर राज्य को जल्द से जल्द खुले में शौचमुक्त करने के लिए समाधान तलाशने के मकसद से अय्यर गोवा गए थे.

दो ही जिले, फिर क्यों पिछड़ापन
मंत्रालय में एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि चूंकि राज्य में सिर्फ दो जिले हैं, उत्तर गोवा एवं दक्षिण गोवा. इसलिए इसे अब तक खुले में शौचमुक्त हो जाना चाहिए. यह बहुत छोटा राज्य है. अधिकारियों का मानना है कि गोवा देश के सबसे छोटे राज्यों में से एक है. इसके पर्वतीय भू-भाग एवं निम्न जलस्तर के कारण यहां पानी की समुचित आपूर्ति करने में मुश्किल आती है. इसलिए अधिकतर ग्रामीण इलाकों में लोग मजबूरन खुले में शौच जाते हैं.

गुजरात, केरल, अरुणाचल आगे
अरुणाचल प्रदेश, छत्तीसगढ़, गुजरात, केरल एवं चंडीगढ़ तथा दमन-दीव जैसे केंद्र प्रशासित राज्य ओडीएफ सूची में शीर्ष पर हैं. ये राज्य ओडीएफ के तहत शत-प्रतिशत कवरेज हासिल करने के करीब हैं. वहीं, गोवा के अलावा ओडीएफ की सूची में आधा दर्जन राज्य निचले स्थान पर हैं. इनमें बिहार एवं मणिपुर के अलावा ओडिशा, जम्मू कश्मीर, उत्तर प्रदेश और पुडुचेरी शामिल हैं.

error: Content is protected !!