अमेरिका: स्कूल में छात्र ने की अंधाधुंध गोलीबारी, दो छात्रों की मौत, 17 घायल

0
11

बेंटन : केंतुकी के ग्रामीण इलाके में स्थित एक हाईस्कूल में भीड़ से भरे हॉल में 15 वर्षीय एक छात्र के अचानक गोलीबारी करने से उसके दो सहपाठियों की मौत हो गई और कई विद्यार्थी घायल हो गए. छात्रा अलेक्जेंड्रिया कैपोरली ने कहा, ‘वह दृढ़ था और उसे पता था कि वह क्या कर रहा है’. उसने कहा, ‘वह एक के बाद एक गोली चलाता गया’.

पुलिस ने संदिग्ध को मौके पर से ही गिरफ्तार कर लिया. उस पर हत्या और हत्या की कोशिश का मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने संदिग्ध के संबंध में कोई जानकारी मुहैया नहीं कराई है.

केंतुकी स्टेट पुलिस के लेफ्टिनेंट माइकल वेब ने बताया कि जांचकर्ता उसके (संदिग्ध के) घर एवं उसकी पृष्ठभूमि के संबंध में जांच कर रहे हैं. वेब ने कहा, ‘शेरिफ विभाग ने उसे मौके से ही गिरफ्तार कर लिया’.

KENTUCKY-SHOOTING
केंतुकी स्थित एक हाईस्कूल में भीड़ से भरे हॉल में 15 वर्षीय छात्र ने अचानक गोलीबारी की. पुलिस ने संदिग्ध को मौके पर से ही गिरफ्तार किया. (फोटो- रॉयटर)

मार्शल काउंटी हाई स्कूल में हुई गोलीबारी में 17 लोग घायल हो गए, जिनमें से 12 को गोली लगी और पांच अन्य लोगों को चोटे आईं हैं.

उल्‍लेखनीय है कि इससे पहले बीते वर्ष नवंबर माह में भी अमेरिका के टेक्सास प्रांत में एक बैपटिस्ट चर्च में हुई गोलीबारी में करीब 26 लोगों की मौत हो गई थी. इस हमले में कई लोग घायल भी हुए थे. स्थानीय गोलीबारी सैन एंटोनियो के दक्षिण पूर्व में सदरलैंड स्प्रिंग्स में फर्स्ट बैपटिस्ट चर्च में हुई. स्थानीय समय के अनुसार, शूटर सुबह करीब 11:30 बजे सदरलैंड स्प्रिंग्स स्थित बैपटिस्ट चर्च में घुसा और गोलीबारी शुरू कर दी. इस समय चर्च में कई लोग प्रार्थना कर रहे थे. एक निजी वेबसाइट की खबर के अनुसार घायलों में दो साल का एक बच्चा भी शामिल है.

टेक्सास के गर्वनर ग्रेग एबॉट ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि गोलीबारी की घटना में अब तक 26 लोगों की मौत हुई है. ग्रेग ने कहा था कि टेक्सास के इतिहास में यह सबसे भयावह गोलीबारी है.