गिरिराज सिंह बोले- उम्मीद है कि शियाओं के बाद सुन्नी भी राम मंदिर का समर्थन करेंगे

0
19

ठाणे‌‌‌‌‌‌: केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने उम्मीद जताई है कि शियाओं की तरह ही सुन्नी मुसलमान भी अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के समर्थन में आगेआएंगे. बीजेपी नेता ने यहां 25वें राष्ट्रीय कवि सम्मेलन के उद्घाटन के मौके पर यह बात कही. उन्होंने शनिवार को संवाददाताओं से कहा ‘‘शियाओं ने अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर समर्थन जताया है. मुझे उम्मीद है कि सुन्नी मुसलमान भी इसे अपना समर्थन देंगे.’’ पिछले साल नवंबर में उत्तर प्रदेश शिया केंद्रीय वक्फ बोर्ड ने राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद स्थल को लेकर दशकों से चल रहा विवाद सुलझाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में एक प्रस्ताव सौंपते हुए कहा था कि अयोध्या में मंदिर बनाया जा सकता है और मस्जिद लखनऊ में बनाई जा सकती है.

सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विपक्ष द्वारा आलोचना को खारिज करने के लिए उन्होंने सोशल मीडिया का खूब उपयोग किया था. पिछले साल उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी को बहुमत मिला था.उन्होंने कहा ‘‘उप्र विधानसभा चुनाव के दौरान विपक्ष ने प्रधानमंत्री की खूब आलोचना की लेकिन मैंने यह संदेश देने के लिए सोशल मीडिया का खूब उपयोग किया कि (उनकी अगुवाई में) क्या क्या अच्छा किया गया और आपने खुद ही परिणाम देखा.’’

अपने संबोधन में सिंह ने कहा कि बढ़ती आबादी पर रोक की जरूरत है क्योंकि यह देश के सामने मौजूद एक बड़ी समस्या है. उन्होंने कहा कि आबादी रोकने के लिए तथा जमीन और पानी जैसे संसाधनों के उपयोग पर दबाव कम करने के लिए जन्म नियंत्रण उपायों की जरूरत है.

‘हिम्मत है तो मोहम्मद साहब पर फिल्म बनाकर उनका चरित्र दिखाएं’
संजय लीला की विवादित फिल्म पद्मावत की केंद्रीय मंत्री गिरिराज किशोर ने भी एंट्री करते हुए फिल्म और फिल्म के निर्माता-निर्देशक की कड़ी आलोचना की है. एएनआई ने बात करते हुए गिरिराज सिंह ने कहा था कि जब राजस्थान में पद्मावत की शूटिंग हो रही थी, तब भंसाली ने इसे क्यों नहीं बंद किया.

उन्होंने कहा था, ‘गांधीजी पर फिल्म बनाएं और उनका कत्थक या भंगड़ा करते हुए दिखाएं तो मैं माफ नहीं करूंगा.’ उन्होंने एक कदम आगे बढ़ते हुए कहा कि अगर हिम्मत है तो मोहम्मद साहब पर फिल्म बनाकर उनका चरित्र दिखाएं.