Home > प्रदेश > आस्था या अंधविश्वास: इस तालाब के पानी से दूर हो रही हैं गंभीर बीमारियां!

आस्था या अंधविश्वास: इस तालाब के पानी से दूर हो रही हैं गंभीर बीमारियां!

टोंक: भारत की धरती वैसे तो खुद ही एक चमत्कार है. जहां एक ओर गंगा जैसी पावन नदी बहती है तो दूसरी हिमालय पर्वत. इतना ही नहीं हिंदू हो या मुस्लिम हर धर्म को लेकर देश में आए दिन आस्था के चमत्कार देखने को मिलते हैं. राजस्थान के टोंक जिले से ऐसी ही एक चमत्कार की खबर सामने आई है. चमत्कार का आलम यह है कि इलाके में मेला सा माहौल है. दरअसल, राजस्थान के टोंक जिले में बनेठा क्षेत्र के सेदरी गांव के पास एक तालाब में एक कथित चमत्कार हुआ है जिस वजह से उस तालाब के पानी से नहाने भर से कैंसर, कोढ़ और लकवा जैसी गंभीर बीमारियां चुटकी में दूर हो रही हैं. जैसे-जैसे यह बात फैल रही है इसका लाभ लेने के लिए आस-पास से ही नहीं दूर दराज से लोगों का हुजुम उमड़ रहा है.

कुछ दिन पहले प्रगट हुए नाग देवता
जी मीडिया ने मामले की छानबीन की तो पता चला कि यहां कुछ दिन पहले अचानक नाग देवता के प्रकट होने की चर्चाएं शुरू हुई थीं. जिसके बाद देखते ही देखते विरान सी रहने वाली यह जगह लोगों के मेले में तब्दील हो गई. कहते हैं कि एक बबूल के पेड़ पर नाग देवता का जोड़ा प्रकट हुआ था. जिसने काफी लंबे समय तक वहीं अपना डेरा जमाए रखा. उस दौरान उस नाग जोड़े को लेकर ग्रामीणों में जबरदस्त कौतूहल बना. जिसके बाद स्थानीय लोगों ने भोपों का सहारा लिया और पूछताछ शुरू की.

खुदाई के दौरान मिली समाधि स्थल
इसके बाद यहां मंदिर बनाने का काम भी शुरू हो गया. उसी जगह के पास में खुदाई के दौरान एक पुरानी समाधि स्थल भी नजर आई तो लोगों ने वहां भी पूजा पाठ शुरू कर दिया. इस जगह की खास बात यह है कि यहां ग्रामीणों की पंचायत ने कैमरों से वीडियो शूटिंग करने पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा रखा है. आस-पास के गांवों के लोगों से मिली जानकारी के मुताबिक दावे किए जा रहे हैं कि इस तालाब के पानी से नहाने भर से सारे चर्म रोग चुटकियों में दूर हो जाते हैं.

लोगों का दावा है आस्था का केन्द्र
लोगों की आस्था है कि यहां हर शुक्रवार के दिन पूजा पाठ करने और नहाने से सभी प्रकार के रोग दूर हो जाते हैं. जिसके चलते इन दिनों शुक्रवार की सुबह से शाम तक हजारों की तादाद में श्रद्धालु आते हैं. आसपास के लोगों का तो यहां तक भी दावा कि है अब तक हजारों की तादाद में आने वाले लोगों के लकवा, कैंसर और कोढ़ जैसी गंभीर बीमारियां दूर हुई हैं.

जारी है लोगों का आना
तमाम दावों के बीच फिलहाल यहां अब तक ना तो कोई प्रशासनिक अधिकारी पहुंचा है ना ही कोई और जिम्मेदार व्यक्ति. हालांकि यहां श्रद्धालुओं के पहुंचने का सिलसिला बदस्तूर जारी है. जो यह दर्शाता है कि इस कथित चमत्कार में लोगों की आस्था हो चुकी है.

error: Content is protected !!