नीरव मोदी के दादा का नाम है मुफत लाल मोदी, पढ़ें फैमिली की पूरी हिस्ट्री

0
1

अहमदाबाद : पंजाब नेशनल बैंक (PNB) को 11,300 करोड़ रुपये का चूना लगाकर विदेश भाग गए अरबपति हीरा कारोबारी नीरव मोदी को दुनिया भर में ढूंढा जा रहा है. भारत सरकार उसकी तलाश में विशेष टीमें बना रही है. ऐसे में इस कारोबारी के बारे में हर कोई जानना चाह रहा है. लोग जानना चाह रहे हैं कि आखिर नीरव मोदी कहां का है और उसका पारिवारिक बैकग्राउंड क्या था. उसके दादा क्या करते थे, वह मुंबई कैसे पहुंचा आदि. कई ऐसे सवाल लोगों के मन में उठ रहे हैं, जिसका जवाब लोग जानना चाहते हैं.  आइए नीरव मोदी के पारिवारिक बैकग्राउंड के बारे में जानते हैं.

पालनपुर की गलियों में बिता था नीरव मोदी का बचपन
नीरव मोदी का परिवार मूलरूप से गुजरात के पालनपुर का रहने वाला है. इस परिवार का पुश्तैनी घर ढालवास के पतली गली मोहल्ले में स्थित है. पालनपुर शहर बांसकाठा जिले का है. गुजरात का यह शहर राजस्थान के बॉर्डर इलाके में है. नीरव मोदी के दादा मुफत लाल पत्नी प्रभाबेन के साथ मिलकर पापड़ बनाने का काम करते थे. पूरे परिवार का खर्च पापड़ बेचकर ही चलता था. ढालवास में अभी भी नीरव मोदी का पुश्तैनी घर मौजूद है. यह घर पुरानी ईंटों और यूनानी मिट्टी से बना है.

Nirav modi
नीरव मोदी का पुश्तैैैैनी घर इसी मोहल्ले में है.

नीरव जब 7 साल के थे तभी पिता मुंबई शिफ्ट हुए
पड़ोसियों के मुताबिक नीरव मोदी करीब 7 साल के थे तो उनके पिता पीयूष मोदी पूरे परिवार के साथ मुंबई शिफ्ट हो गए थे. यहां के स्थानीय लोग बताते हैं कि नीरव मोदी का परिवार साल में एक या दो बार गांव में जरूर आते हैं. गांव के लोग बताते हैं कि नीरव मोदी के पिता दादा मुफतलाल ने पालमपुर के विद्या मंदिर को ट्रस्ट को अपनी जमीन दान की थी, जिसपर आज स्कूल चल रहा है.

नीरव मोदी का नाम इतने बड़े घोटाले में आने से गांव के लोग स्तब्ध हैं. उनका कहना है कि जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी. उन्हें अभी भी भरोसा है कि नीरव मोदी अपने ऊपर लगे सारे आरोपों से बरी होंगे.

नीरव का भाई बना विदेशी
नीरव का भाई निशाल बेल्जियम का नागरिक है. नीरव की पत्नी एमी के पास अमेरिका की नागरिकता है. सीबीआई अधिकारियों ने कहा कि पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ धोखाधड़ी को लेकर इस समय सुर्खियों में चल रहा नीरव मोदी बैंक की ओर से इस मामले में शिकायत मिलने से काफी दिन पहले गत एक जनवरी को ही देश से बाहर चला गया था. उन्होंने कहा कि नीरव का भाई निशाल बेल्जियम का नागरिक है. वह भी एक जनवरी को भारत छोड़ गया. हालांकि वे दोनों साथ गए थे या अलग अलग इसकी जांच अभी की जानी है. नीरव की पत्नी और अमेरिकी ना​गरिक एमी छह जनवरी को यहां से निकलीं. उसके चाचा तथा गीतांजलि जूलरी के प्रवर्तक मेहुल चौकसी चार जनवरी को देश छोड़कर चले गए.