Home > देश > तेजस्वी यादव की गिरिराज सिंह को चुनौती, ‘हिम्मत है तो चुनाव करा लीजिए, पता लग जाएगा…’

तेजस्वी यादव की गिरिराज सिंह को चुनौती, ‘हिम्मत है तो चुनाव करा लीजिए, पता लग जाएगा…’

नई दिल्लीः बिहार से बीजेपी सांसद और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज किए जाने की खबर पर आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा है. तेजस्वी यादव ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से लगातार ट्वीट कर राज्य में बीजेपी-जेडीयू गठबंधन और केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना बनाया. तेजस्वी के जवाब में गिरिराज सिंह ने भी ट्वीट किया और उन्हें आरजेडी की डूबती नैय्या को संभालने की हिदायत दे दी. जवाब में तेजस्वी यादव ने भी गिरिराज सिंह को बिहार में दोबारा चुनाव कराने की चुनौती दे दी.

दरअसल गिरिराज सिंह ने तेजस्वी यादव के ट्वीट पर जवाब देते हुए लिखा था, ‘तेजस्वी जी के ट्वीट से पहली जानकारी मिली,ऐसा प्रतीत होता है कि इसके आर्किटेक्ट वही है. FIR के मेरिट पर जानकारी के अभाव में कुछ नही कह सकता. लेकिन कानून का हमेशा सहयोग करूंगा. तेजस्वी जी अपने पिता जी के कन्विक्शन और उसके बाद डूबती राजद की नैया बचने पर चिंतन करे तो भला होगा.’

गिरिराज सिंह के ट्वीट के जवाब में तेजस्वी यादव ने लिखा, ‘हिम्मत है तो सीधे आकर आज चुनाव करा लीजिये. पता लग जाएगा किसकी नैया डूब रही है? जिस व्यक्ति ने बीजेपी को लात मार बाहर फेंका था उसी के कंधों पर बीजेपी अपनी पालकी ढो रही है.’ अपने अगले ट्वीट में तेजस्वी ने लिखा, ‘आपके घर करोड़ों कैश, विदेशी मुद्रा, ज़ेवरात, महँगी घड़ियां मिली थी. बड़ी चालाकी से मामला दबवाया गया था. कौन नहीं जानता. अब दलित की ज़मीन पर कब्ज़ा? माननीय कोर्ट के आदेश से FIR हुआ है जनाब.’

 https://twitter.com/yadavtejashwi/status/961508837080600576

गौरतलब है कि तेजस्वी यादव ने बुधवार रात को गिरिराज सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज किए जाने की खबर को ट्वीट कर शेयर किया था. तेजस्वी अपने ट्वीट में लिखा, ‘केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह द्वारा 2 एकड 56 डिसमिल जमीन पर जबरन कब्ज़ा करने के आरोप पर आज पटना व्यवहार न्यायालय के आदेशनुसार दानापुर थाना मे (कांड संख्या 54/2018) FIR की गई है. इसी मंत्री के घर करोड़ों रू कैश की भी बरामदगी हुई थी. लेकिन फिर भी ईमानदार है क्योंकि कोई खबर नहीं है.’

तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर भी निशाना साधा, ‘नीतीश जी अगर आप मे नैतिक बल है और अपनी नैतिकता एवं तथाकथित छवि की पूंजी पर घमंड है तो गिरिराज सिंह से तथ्यात्मक बिंदुवार जवाब लेकर दिखाइए ना. पूछिए क्यों दलितों की ज़मीन कब्ज़ा रहे है? सामंती मानसिकता के CM पिछड़े वर्ग से आने वाले तेजस्वी से बड़ा कूद-कूद बिंदुवार जवाब मांग रहे थे’

गिरिराज सिंह पर एफआईआर
केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह सहित 33 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हुई है. यह मामला भूमि सौदे से जुड़ा है. पटना के नजदीक दानापुर पुलिस स्टेशन में गिरिराज सिंह और अन्य के खिलाफ मामला रजिस्टर किया गया है. कैबिनेट मिनिस्टर गिरिराज और अन्य 32 लोगों पर दानापुर में कथित तौर पर 2 एकड़ से ज्यादा की जमीन को बलपूर्वक हड़पने का आरोप लगा है. दानापुर के असोपुर गांव में रहने वाले नारायण प्रसाद ने हाल ही में एससी/एटी स्पेशल कोर्ट में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह सहित 33 लोगों के खिलाफ याचिका दायर की थी.

इसमें उन्होंने आरोप लगाया था कि उनकी 2 एकड़ से ज्यादा की जमीन को एक साजिश के तहत खरीदा और बेचा गया. बिहार के नवादा से भाजपा सांसद गिरिराज सिंह केंद्रीय मंत्रिमंडल में सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्यम मंत्रालय का पदभार संभाल रहे हैं. दानापुर के पुलिस स्टेशन प्रभारी संदीप कुमार ने कहा कि 33 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है, जिसमें केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह भी शामिल हैं. स्टेशन प्रभारी ने बताया कि इन सभी लोगों पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) और अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति की विभिन्न धाराओं में केस रजिस्टर किया गया है. वहीं दूसरी ओर प्रमुख विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने गिरिराज सिंह से इस्तीफे की मांग की है.

error: Content is protected !!