छत्तीसगढ़: नक्सलियों ने वाहनों और मशीनों में लगाई आग, बंद कराया सड़क निर्माण

0
9

रायपुर: छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले में नक्सलियों ने सड़क निर्माण में लगे सात वाहनों और मशीनों में आग लगा दी है. बीजापुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले के गंगालूर थाना क्षेत्र के अंतर्गत पोंजेर नाले के करीब नक्सलियों ने सात वाहनों और मशीनों में आग लगा दी है. अधिकारियों ने बताया कि जिला मुख्यालय बीजापुर से गंगालूर के मध्य सड़क निर्माण का कार्य किया जा रहा है.

यह सड़क क्षेत्र में महत्वपूर्ण माना जाता है. उन्होंने बताया कि  हथियारबंद नक्सलियों का एक दल पोंजेर नाला के करीब पहुंचा और वहां निर्माण कार्य को बंद करवा दिया. बाद में नक्सलियों ने निजी कंस्ट्रक्शन कंपनी के दो रोड रोलर, दो मिक्सर मशीन, दो पानी टैंकर और एक जेसीबी मशीन में आग लगा दी.

घटना को अंजाम देने के बाद नक्सली वहां से फरार हो गए. अधिकारियों ने बताया कि सड़क निर्माण कर रहे कंपनी से कहा गया है कि पर्याप्त सुरक्षा के बगैर वह कार्य नहीं करें. लेकिन कंपनी ने इसके बावजूद अपने कार्य को जारी रखा. पुलिस अधिकारियों ने कहा कि क्षेत्र में हो रहे सड़कों के निर्माण से नक्सली बौखला गए हैं, जिसके कारण उन्होंने इस घटना को अंजाम दिया है.

राज्य के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में मंगलवार को नक्सलियों ने बारूदी सुरंग में विस्फोट कर एंटी लैंडमाइन व्हीकल को उड़ा दिया था. इस घटना में सीआरपीएफ के नौ जवान शहीद हो गए हैं तथा दो अन्य घायल हैं.

16 फरवरी को भी हुआ था हमला
गौरतलब है कि 16 फरवरी को भी नक्सलियों ने पुलिस दल पर हमला किया था. सुकमा के तोकनपल्ली गांव के जंगल में डीआरजी और एसटीएफ के संयुक्त दल की गश्ती के दौरान ये हमला किया गया था. इस दौरान नक्सलियों ने फायरिंग शुरू कर दी. जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने दो नक्सली ढेर कर दिए. जिनकी पहचान नंदा और सन्नी के रूप में हुई थी. मुठभेड़ में मारा गया नक्सली नंदा, गंगुलावा एरिया कमेटी का सदस्य था. वहीं महिला नक्सली सन्नी उर्फ कुंजाम लख्खे, नगरम लोकल आर्गेनाइजेशन स्क्वाड की सदस्य थी. इनके पास से देशी हथियार, विस्फोटक और अन्य सामान बरामद किए गए थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here