PM मोदी ब्लैक मनी तो नहीं लाए, व्हाइट मनी जरूर बाहर भेज रहे हैं : गुलाम नबी आजाद

0
12

नई दिल्ली : बीजेपी ने आज सोमवार को बैंक घोटालों के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम पर जोरदार हमला बोला था. इस हमले पर पलटवार करते हुए कांग्रेस ने बीजेपी को देश के पैसे को बाहर भेजने का जिम्मेदार ठहराया है.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विदेशों में फंसा देश का काला धन लाने का वादा किया था, वे काला धन तो नहीं ला सके, बल्कि देश की जनता द्वारा मेहनत से कमाए सफेद धन को जरूर देश से बाहर भेजने में लगे हुए हैं. उन्होंने नीरव मोदी के विदेश भागने पर केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया.

पॉपुलरिटी का इस्तेमाल करें पीएम
गुलाम नबी आजाद ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार विदेशी दौरे पर रहते हैं. वे जबसे प्रधानमंत्री बने हैं, लगातार विदेशों का दौरा कर रहे हैं. बीजेपी कहती है कि प्रधानमंत्री विदेशों में बहुत ही प्रसिद्ध हैं. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा कि जब प्रधानमंत्री विदेशों में इतने मशहूर हैं तो वे इस पॉपुलरिटी को बैंक घोटाला करके विदेश भागे लोगों को वापस भारत लाने में इस्तेमाल क्यों नहीं कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि लोग बैंक घोटाले करके जनता का करोड़ों-अरबों लेकर आराम से विदेश में जाकर बस रहे हैं. प्रधानमंत्री को अपनी विदेश नीति और पॉपुलरिटी का इस्तेमाल कर इस भगोड़ों को वापस लाने का काम करना चाहिए.

बीजेपी ने लगाए गंभीर आरोप
बता दें कि आज ही बीजेपी के वरिष्ठ नेता तथा केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एक संवाददाता सम्मेलन में कांग्रेस पर गंभीर आरोप लगाते हुए बैंक घोटालों के लिए दोषी ठहराया था. उन्होंने कहा था कि बीजेपी के कार्यकाल एक भी बैंक लोन पर एनपीए नहीं हुआ है. जो भी इस समय घोटाले हो रहे हैं वे सभी कांग्रेस के कार्यकाल के हैं. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि गोल्ड स्कीम के तहत तत्कालीन वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने अपनी अधिकारियों का इस्तेमाल करते हुए 7 निजी कंपनियों को गोल्ड स्कीम में शामिल किया था, जिनमें एक कंपनी मेहुल चोकसी की गीताजंलि भी है.