वसुंधरा राजे का दावा, राजस्थान में फिर से बनेगी बीजेपी की सरकार

0
72

जयपुर: राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने विश्वास जताया है कि प्रदेश में बीजेपी फिर से सरकार बनाएगी. राजे ने रविवार को भाजपा प्रदेश मुख्यालय में कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के संगठन कौशल से भाजपा ने पूर्वोत्तर में ऐतिहासिक जीत दर्ज की है. उन्होंने कहा कि वामपंथी किले को ढहाकर पार्टी ने साबित कर दिया है कि अब देश में भाजपा का कोई विकल्प नहीं है.

क्या कहा वसुंधरा राजे ने?
मुख्यमंत्री ने कहा कि यह नेतृत्व कौशल, कार्यकर्ताओं की मेहनत और जनता के आर्शीवाद का परिणाम है कि आज त्रिपुरा में भाजपा का वोट शेयर 1.3 प्रतिशत से बढ़कर 43 प्रतिशत तक पहुंच गया है. इसमें सहयोगी दलों का 8 प्रतिशत शामिल कर लें तो यह 51 प्रतिशत हो जाता है, जबकि कांग्रेस का वोट शेयर सिमटकर केवल 1.8 प्रतिशत रह गया.

उन्होंने कहा कि यह विकास की राजनीति का परिणाम है जिसके कारण भारत आज विकास की नई उंचाईयों की ओर बढ़ रहा है. उन्होंने कहा कि इस जीत से पूर्वोत्तर का राजनीतिक चित्र बदल गया है. अब देश में 20 राज्यों में भाजपा और उसके सहयोगी दलों की सरकारें है. कांग्रेस केवल चार राज्यों में सिमट गई है. अब देश में सूरज उगता भी भाजपा शासित प्रदेश में है और अस्त भी भाजपा शासित प्रदेश में होता है. उन्होंने विश्वास जताया कि प्रदेश में होने वाले आगामी विधानसभा चुनावों में भाजपा फिर से सरकार बनाएगी.

प्रदेश में भी कांग्रेस पूर्ण बहुमत से सरकार बनायेगी : पायलट
वहीं राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस आगामी समय में पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाएगी. पायलट ने कहा कि मुख्यमंत्री कितने भी दावे कर ले प्रदेश में कांग्रेस आगामी समय में पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाएगी. उन्होंने पूर्वोत्तर राज्यों के चुनावी परिणामों को लेकर प्रदेश की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे द्वारा व्यक्त किए गए उत्साह पर प्रतिक्रिया देते हुए इसे उप चुनावों की हार से उपजी बौखलाहट पर पर्दा डालने का असफल प्रयास बताया है.

पायलट ने एक बयान में कहा कि हर आम व्यक्ति इस बात को जानता है कि प्रदेश भाजपा सरकार ने चार वर्षों में जनविरोधी काम किये हैं और अब सरकार के पास कोई समय नहीं है कि वह अपनी गलतियों को सुधारकर अपनी स्थिति में बदलाव ला सके. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने जिस मजबूती के साथ विपक्ष का दायित्व निभाया है उससे जनता प्रभावित हो चुकी है और कांग्रेस को बागडोर सौंपने के लिए पूरी तरह से तैयार है.