कोच रवि शास्त्री को विराट में दिखती है इस पाकिस्तानी कप्तान की छवि

0
12

कोलकाता: भारतीय क्रिकेट टीम के कोच रवि शास्त्री ने कप्तान विराट कोहली की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं. दक्षिण अफ्रीका में वनडे और टी-20 सीरीज जीतकर इतिहास रचने वाले विराट कोहली की तारीफ करते हुए भी शास्त्री ने कहा था कि विराट कोहली वर्तमान समय में ‘दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज’ बन गए हैं. कोच शास्त्री का मानना है कि भारतीय कप्तान का कोई सानी नहीं है. अब एक बार फिर से टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री ने विराट कोहली की तारीफ करते हुए पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इमरान खान से उनकी तुलना की है.

रवि शास्त्री ने विराट की तारीफ करते हुए कहा कि कोहली उन्हें पाकिस्तान को विश्व कप जिताने वाले कप्तान इमरान खान की याद दिलाते हैं. शास्त्री ने कहा, “विराट के लिए अभी सफर शुरू हुआ है. वह अभी भी काफी युवा हैं लेकिन इसके बावजूद वह श्रेष्ठ खिलाड़ियों में जगह बना चुके हैं. वह आगे बढ़कर नेतृत्व करना चाहते हैं. वह मुझे इमरान खान की याद दिलाते हैं. वह काफी युवा हैं लेकिन उनमें इमरान के कुछ गुण हैं, खासतौर पर टीम का नेतृत्व करने के मामले में वह इमरान जैसे हैं.”

वर्ल्ड नम्बर-1 वनडे बल्लेबाज कोहली ने हाल ही में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हुई वनडे सीरीज में 500 रन बनाए थे. वह यह मुकाम हासिल करने वाले पहले बल्लेबाज बने हैं.

इमरान और कोहली के बीच की समानताओं के बारे में पूछे जाने पर शास्त्री ने कहा, “कोहली और इमरान में डॉमिनेट करने की क्षमता थी. दोनों प्रतिस्पर्धा करना जानते थे. माहौल जैसा भी हो, दोनों लड़ना जानते हैं. कोहली मानते हैं कि वह अपनी काबिलियत दूसरे खिलाड़ियों में भी संचारित कर सकते हैं और यही इमरान की भी सोच थी.”

Imran Khan

शास्त्री ने किया था धोनी का बचाव
हाल ही में टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने एक बार फिर महेंद्र सिंह धोनी के आलोचकों को करारा जवाब दिया था. उनका दावा है कि धोनी को क्रिकेट इतिहास में वनडे क्रिकेट प्रारूप के महानतम क्रिकेटर के रूप में याद किया जाएगा.  शास्त्री ने कहा कि उन्हें परवाह नहीं की कि आलोचक उनके बारे में क्या सोचते और कहते हैं, लेकिन उनके अनुभव का कोई विकल्प नहीं है, जिसके कारण धोनी भारत की सीमित ओवरों की टीम का अहम हिस्सा हैं.

उनका कहना था, “धोनी के पास जिस तरह का अनुभव है और जिस स्तर की फिटनेस है वे दुनिया में अब तक के सर्वश्रेष्ठ वनडे खिलाड़ी के तौर पर जाने जाएंगे. जैसा कि मैने कहा कि उनके अनुभव का कोई विकल्प नहीं है, उसे किसी बाजार में बेचा या खरीदा नहीं जा सकता.