इंडिगो से सफर करना हुआ महंगा, फ्यूल सरचार्ज के नाम पर इतने रुपये और देने होंगे

0
61

नई दिल्लीः देश की सबसे बड़ी विमानन कंपनी इंडिगो ने विमान ईंधन की बढ़ती कीमतों के बोझ को कम करने के लिए घरेलू मार्गों पर 400 रुपये प्रति यात्री तक का ईंधन अधिभार (सरचार्ज) लगाने की घोषणा की है. कंपनी के इस कदम से किराए में वृद्धि होगी. इंडिगो पहली कंपनी है जिसने विमान ईंधन की बढ़ी कीमतों का बोझ यात्रियों पर डालने की घोषणा की है. कंपनी ने विज्ञप्ति में कहा कि तेल और विमान ईंधन (एटीएफ) की कीमतों में तेजी को देखते हुए उसने 30 मई से फिर से ईंधन अधिभार (सरचार्ज) शुरू करने का निर्णय लिया है.

इसके तहत एक हजार किलोमीटर के हवाई मार्ग के हर टिकट पर 200 रुपये का शुल्क लगाया जाएगा जबकि एक हजार किलोमीटर से लंबे मार्ग पर 4,00 रुपये का शुल्क लगेगा. यह सरचार्ज सभी तरह की घरेलू उड़ानों पर लगाया जाएगा और यह गुरुवार (30 मई) की आधी रात से लागू हो जाएगा. कंपनी ने कहा कि ईंधन अधिभार के रूप में हवाई किराए में मामूली वृद्धि से हवाई – यातायात की मांग पर कोई अहम प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ेगा.

बता दें कि दिल्ली और मुंबई में एविएशन टर्बाइन फ्यूल यानि एटीएफ में जनवरी 2017 से लेकर अब तक 25 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हो चुकी है. इंडिगो के चीफ कॉमर्शियल ऑफिसर संजय कुमार ने कहा, ‘भारत में पिछले साल इस अवधि की तुलना में एटीएफ की कीमतों में आई 25 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई है, यह पिछले तीन वर्षों में सबसे ऊंचे स्तर पर है. जिसके चलते एयरलाइन इस कदम को उठाने पर मजबूर है कि उसे अपना कुछ बोझ कस्टमर्स पर फ्यूल सरचार्ज के तौर पर डालना होगा.

इंडिगो ने बताया कि एटीएफ के महंगा होने के अलावा इंडियन करेंसी में आई गिरावट ने पैसेंजर्स की मुश्किलें और बढ़ा दी हैं. सस्ती दर पर चलने वाली इन एयरलाइन सेवाओं के लिए सरचार्ज लगाना आवश्यक हो चुका है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here