सीरिया: सरकार समर्थक बलों पर की गई बमबारी, 52 लड़ाकों की मौत

0
9

बेरूत: पूर्वी सीरिया में सरकार समर्थक बलों पर की गई बमबारी में मृतकों की संख्या बढ़कर 52 हो गई है. मृतकों में अधिकतर इराकी हैं. ब्रिटेन स्थित ‘ सीरियन आबजरवेट्री फॉर ह्यूमन राइट्स’ ने सोमवार (18 जून) को यह जानकारी दी. यह हमला रात में शुरू हुआ था. इस संस्था के प्रमुख रामी अब्दुल रहमान ने एएफपी को बताया कि मारे गये लोगों में 30 इराकी लड़ाके और 16 सीरियाई हैं. उन्होंने बताया कि शेष छह लोगों की अभी तक पहचान नहीं हो सकी है. सीरियाई सरकार द्वारा संचालित मीडिया ने हमले के लिए अमेरिकी अगुवाई वाले गठबंधन को जिम्मेदार बताया है. हालांकि उसने इससे इंकार किया है.

सीरिया में इराक से लगती सीमा पर हवाई हमला
ऑब्जर्वेटरी के प्रमुख रामी अब्देल रहमान ने कहा , “ सीरिया – इराक सीमा पर स्थित अल – हारी पर रातभर हुए हमलों में सरकार समर्थित मिलिशिया के 52 गैर सीरियाई लड़ाके मारे गए. ’’ सीरिया सरकार की मीडिया ने सेना के एक सूत्र के हवाले से इस हमले के बारे में रात में ही जानकारी दी और इसका आरोप इस्लामिक स्टेट से लड़ रहे अमेरिका नीत सैन्य गठबंधन पर लगाया.

मीडिया ने कहा कि इन हमलों में बड़ी संख्या में लोग मारे गए और घायल हुए हैं लेकिन उसने सटीक संख्या नहीं बताई. गठबंधन ने इस संबंध में कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. ऑब्जर्वेटरी ने इस बात की तत्काल कोई जानकारी नहीं दी कि अल – हारी पर हुए हमलों को किसने अंजाम दिया.

सीरिया के पूर्व में स्थित डेर अजौर प्रांत में बस्तियों पर कब्जा करने वाले आईएस के खिलाफ अमेरिका समर्थित लड़ाके और रूस समर्थित शासन बल अलग – अलग कार्रवाई कर रहे हैं. ऐसी घटनाओं से बचने के लिए दोनों पक्ष एक- दूसरे के क्षेत्र में हस्तक्षेप से बचते हैं लेकिन इसमें अपवाद भी रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here