स्वच्छ भारत मिशन से फैली जागरुकता, 1 हफ्ते में साफ हो गईं दिल्ली की ये गलियां

0
29

शोएब रज़ा, नई दिल्ली: दिल्ली के न्यू सीलमपुर में लोगों की जागरुकता इन दिनों पीएम मोदी के स्वच्छ भारत मिशन के सपने को साकार कर रही है. ये लोग पिछले एक हफ्ते से रात-दिन चौबीसों घंटे अपनी गलियों के बाहर बाकायदा शामियाना लगाकर इसलिए ड्यूटी दे रहे हैं ताकि गलियों के अंदर कोई कूड़ा ना डाल सके. अपनी मुहिम में इन लोगों को जो कामयाबी मिली है उसने हर किसी को इनकी तारीफ करने को मजबूर कर दिया है.

1 हफ्ते पहले गलियों में पड़ा रहता था कूड़ों का ढ़ेर
केवल 1 हफ्ते पहले तक दिल्ली के न्यू सीलमपुर इलाके की गलियों कूड़ा ही कूड़ा नजर आता था. बच्चे, औरतें या बड़े इन गलियों से गुजरते हुए भी कतराते थे. गंदगी और बदबू से लोगों का अगर बुरा हाल था, तो बीमारियों का डर भी लोगों को सताता था. इलाके के लोगों की हालत ऐसी थी कि जिसका जहां मन हुआ कूड़ा डाल दिया करता था. लेकिन, कुछ लोगों को यह बात अखर गई और उन्होंने बीड़ा उठा लिया कि अब ना तो गली में कूड़ा डाला जाएगा और ना ही यहां गंदगी फैलाई जाएगी.

सिर्फ 1 हफ्ते की मेहनत में चमक गईं गलियां
इसके लिए बाकायदा मोहल्ले में एक कमेटी बनाई गई और गलियों के बाहर एक टेंट लगाया गया. जिसके नीचे बैठकर कमेटी के लोग ऐसे लोगों की निगरानी की जा रही है जो गली में कूड़ा फेंकते थे. अब अगर कोई कूड़ा फेंकने आता है तो उसे समझाया जाता है. इसका असर ये है कि एक हफ्ते के भीतर ही गलियां बिल्कुल साफ नजर आने लगी हैं.

रात-दिन चौबीसों घंटे दी जा रही है ड्यूटी
यही नहीं, अपने इलाके को साफ रखने के लिए बनाई गई इस कमेटी के सदस्य दिन और रात चौबीसों घंटे अपनी ड्यूटी दे रहे हैं, ताकि ना कोई रात के अंधेरे में इन गलियों में कूड़ा डाल सके और ना ही दिन के उजाले में. कमेटी के लोगों की इस पहल की इलाके के लोग तारीफ कर रहे हैं. उनका कहना है कि साफ-सफाई होने की वजह से इलाके का माहौल खुशगवार रहने लगा है और इन लोगों की मेहनत रंग ला रही है.

नतीजा सबके सामने है
सफाई जरूरी है यह बात हर कोई कहता तो है लेकिन हकीकत में ठीक से अमल नहीं कर पाता. यकीनन तारीफ करनी होगी इन लोगों की जिन्होंने जिम्मेदारी और जागरुकता दिखाई और उसका नतीजा आज सबके सामने है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here