14 जून से पहाड़ों पर यातायात होगी ठप्प, अनिश्चितकालीन हड़ताल पर टैक्सी यूनियन

0
29

देहरादून: उत्तराखंड में परिवहन विभाग के वाहनों में स्पीड गवर्नर लगाने के विरोध के चलते प्रदेश भर में जीप कमांडर, टैक्सी संचालकों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का फैसला लिया है. पहाड़ों पर यातायात का महत्वपूर्ण साधन जीप, कमांडर, ट्रैकर है जिससे हजारों परिवारों की रोजी-रोटी जुड़ी हुई है. ये छोटी गाड़ियां पहाड़ों में लाइफ लाइन का भी काम करती हैं. वर्तमान में चारधाम यात्रा भी चरम पर है, ऐसे में परिवहन महासंघ ने 14 जून से अनिश्चितकालीन हड़ताल और चक्काजाम का आह्वान किया है. चक्काजाम की वजह से तीर्थ यात्रियों के अलावा स्थानीय लोगों को भी भारी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा.

पुराने वाहनों में स्पीड गवर्नर लगाने में परेशानी- टैक्सी यूनियन
हड़ताल की तैयारियों को लेकर परिवहन महासंघ की बैठक में वाहन चालकों ने कहा कि सरकार ने वाहनों में स्पीड गवर्नर लगाना अनिवार्य कर दिया है. लेकिन, पुराने वाहनों में स्पीड गवर्नर लगाना संभव नहीं है. स्पीड गवर्नर नहीं लगे होने की वजह से वाहनों को फिटनेस नहीं दी जा रही है. टैक्सी यूनियन का कहना है कि तेल की बढ़ी हुई कीमत, इंश्योरेंस और फिटनेस दर बढ़ाई जाने से टैक्सी मालिकों पर आर्थिक बोझ बढ़ गया है. प्रशासन उनकी बातें सुनने को तैयार नहीं है. मजबूर होकर टैक्सी यूनियन ने 14 जून से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का फैसला किया है.

लोगों को होगी भारी परेशानी
टैक्सी यूनियन का कहना है कि इस हड़ताल की वजह से स्थानीय लोगों को और उत्तराखंड घूमने आए यात्रियों को भारी परेशानी होगी. लेकिन, इसके लिए सरकार जिम्मेदार होगी. हमने मजबूरी में हड़ताल पर जाने का फैसला किया है. बता दें चार धाम यात्रा संचालित करा रही टीजीएमओ और अन्य कंपनियां भी इस हड़ताल में शामिल हो रही हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here