सुपर फास्‍ट मेमोरी मशीन नाम से मशहूर पीलीभीत की बहनों से मिले CM योगी, दी आर्थिक मदद

0
88

लखनऊ :  सुपर फास्‍ट मेमोरी मशीन के नाम से मशहूर पीलीभीत की बहनों हनी सिंह और हसी सिंह से मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने रविवार को मुलाकात की. उन्‍होंने इस दौरान दोनों बहनों को 51-51 हजार रुपये की आर्थिक मदद दी. इसके साथ ही मुख्‍यमंत्री ने दोनों के उज्‍ज्‍वल भविष्‍य की कामना की. दोनों बहनों ने इस दौरान सीएम योगी से अपनी बात रखी. दोनों बहनें सरकार के बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान से भी जुड़ी हुई हैं.

दोनों बहनों से मिलने के बाद मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा ‘मैंने दोनों को बधाई दी. दोनों अपनी प्रतिभा के कारण बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान से भी जुड़ी हुई हैं. राज्‍य सरकार उनकी मदद करेगी. उन्‍हें बस पास मुहैया कराए जाएंगे और साथ ही दोनों को 51-51 हजार रुपये की सहायता राशि भी दी जाएगी.’ योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि सरकार भविष्‍य में भी उन्‍हें मदद करती रहेगी ताकि दोनों बेहतर कार्य करती रहें और दूसरों को भी प्रेरित करती रहें.

अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर भारत की सुपर फास्‍ट मेमोरी मशीन के नाम से मशहूर हिंदुस्‍तान की सबसे कम उम्र की जीनियस बहनें हनी सिंह और हसी सिंह अभी स्‍कूल में पढ़ती हैं. हनी सिंह की उम्र 11 साल है और वह राधा माधव पब्लिक स्‍कूल बरेली में सातवीं क्‍लास में पढ़ती है. हनी सिंह 55 मिनट में सामान्‍य ज्ञान के 16 सौ प्रश्‍नों के जवाब देती है.

वहीं हसी सिंह की उम्र आठ साल है. वह पीलीभीत के बीसलपुर के सरस्‍वती शिशु मंदिर में पांचवीं क्‍लास में पढ़ती है. वह 20 मिनट में सामान्‍य ज्ञान के 700 प्रश्‍नों के जवाब देती है. दोनों बहनें तीन मिनट में देश-प्रदेश की करीब 250 राजधानियां बता देती हैं. साथ ही दोनों बहनों के नाम 5 मिनट में 250 देशों और प्रदेशों के क्षेत्रफल भी बता देने का रिकॉर्ड है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here