दिल्ली: तीन मूर्ति भवन में ‘नेहरू’ के साथ देश के बाकी प्रधानमंत्रियों को भी मिलेगी जगह

0
100

नई दिल्ली: देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के तीन मूर्ति भवन में बने मेमोरियल में अब देश के बाकी प्रधानमंत्रियों को भी जगह मिलेगी. गृह मंत्रालय में एनुअल जनरल बॉडी मीटिंग में गुरुवार को यह फैसला लिया गया. गृह मंत्रालय ने फैसला लिया है कि तीन मूर्ति कैंपस में देश के बाकी प्रधानमंत्रियों के लिए मेमोरियल और म्यूजियम बनाए जाएंगे. बैठक के दौरान कई राजनीतिक पार्टियों के सदस्य भी मौजूद थे. कांग्रेस की तरफ से मल्लिकार्जुन खड़गे ने सरकार के इस प्रस्ताव का जमकर विरोध किया. बैठक में खड़गे ने कहा कि अगर सरकार देश के बाकी प्रधानमंत्रियों के लिए म्यूजियम बनाना चाहती है तो, वह किसी और जगह पर बना सकती है. उन्होंने कहा कि तीन मूर्ति भवन के अंदर किसी भी तरीके का कंस्ट्रक्शन ठीक नहीं है

नेहरू मेमोरियल से किसी तरीके की छेड़छाड़ नहीं- गृह मंत्री
गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सभी सदस्यों से कहा कि नेहरू मेमोरियल से किसी तरीके की छेड़छाड़ नहीं की जाएगी. उन्होंने कहा कि तीन मूर्ति भवन में खाली पड़ी जगह पर एक नई बिल्डिंग बनाई जाएगी. जिसमें देश के बाकी सभी प्रधानमंत्रियों की याद में मेमोरियल और लाइब्रेरी होंगे. नेहरू मेमोरियल और लाइब्रेरी के डायरेक्टर शक्ति सिन्हा ने कहा कि तीन मूर्ति भवन की खाली पड़ी जगह पर एक नया मॉडल और तकनीकी रुप से काफी एडवांस बिल्डिंग बनाई जाएगी. जिसके बनाने पर कुल 280 करोड रुपए खर्च होंगे. सरकार इस नई बिल्डिंग के लिए पहले ही फंड का निर्धारण कर चुकी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here