केरल में भारी बारिश, 1.18 लाख लोग राहत शिविरों में रहने को मजबूर

0
117

तिरूवनंतपुरम: केरल में शुक्रवार सुबह बारिश की वजह से एक घर के गिरने से दो लोगों की मौत के बाद राज्य में बारिश की विभिन्न घटनाओं में मरनेवाले लोगों की संख्या 41 तक पहुंच गई है. बारिश की घटनाओं पर निगरानी रखनेवाले सेल के सूत्रों ने बताया कि आज तड़के भारी बारिश की वजह से एक कच्चा मकान ढह गया जिसकी वजह से एक व्यक्ति और उसके बेटे की मौत हो गई. अलप्पुझा जिले में एक व्यक्ति अभी लापता है.

सूत्रों ने बताया कि केंद्रीय राज्य मंत्री किरण रिजीजू और पर्यटन मंत्री के जे अल्फोंस के नेतृत्व में एक केंद्रीय टीम बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित कोट्टयम और अल्लपुझा जिले के साथ ही चेल्लनम और एर्नाकुलम का शनिवार को दौरा करेगी. राज्य के कई इलाकों में बारिश की वजह से 1.18 लाख लोग 606 राहत शिविरों में रहने को मजबूर हैं. आधिकारिक सूत्रों ने शुक्रवार को यहां यह जानकारी दी.

अलप्पुझा और कोट्टायम सबसे ज्यादा प्रभावित 
उन्होंने कहा कि शुक्रवार सुबह तक अलप्पुझा में बनाए गए 212 राहत शिविरों में कुल 50,836 लोग रह रहे हैं जबकि निकटवर्ती कोट्टायम में बनाये गए 164 शिविरों में 37,657 लोगों ने शरण ले रखी है. राज्य के ये दोनों जिले बारिश से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं. इन जिलों में कई जगहों पर जलभराव से कोई राहत नहीं मिल रही. कमर तक पानी में महिलाओं और बच्चों की तस्वीरें इन दिनों यहां का सामान्य नजारा है.

कई जगहों पर राज्य परिवहन निगम की बस सेवाएं भी बारिश की वजह से बंद करनी पड़ी हैं. मौसम विभाग ने कल तक राज्य के कुछ इलाकों में भारी से बेहद भारी बारिश का पूर्वानुमान व्यक्त किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here