जानें क्या हैं भारत-आयरलैंड सीरीज के खास रिकॉर्ड जो बना गए इतिहास में जगह

0
98

नई दिल्ली :टीम इंडिया ने आयरलैंड को दूसरे टी20 में रिकॉर्ड जीत से दो मैचों की टी20 सीरीज जीत ली. इस सीरीज में जहां पहले मैच में टीम इंडिया के सितारों और दिग्गजों से सजी टीम ने 76 रनों से जीत हासिल की तो दूसरे मैच में रिकॉर्ड 143 रनों से जीत हासिल की.  इस सीरीज में कई रिकॉर्ड बने जहां भारत ने रनों के लिहाज से सबसे बड़ी जीत हासिल की तो वहीं कप्तान विराट कोहली का सबसे खराब प्रदर्शन रहा जिसमें वे केवल 9 ही रन बना सके. जहां रिस्ट स्पिनर्स ने एक बार फिर अपना जादू दिखाया तो रोहित शर्मा, शिखर धवन, लोकेश राहुल, सुरैश रैना ने शानदार बल्लेबाजी की.

इस सीरीज में टीम इंडिया के कई रिकॉर्ड बने. जहां दूसरे में टीम इंडिया की रनों के अंतर के लिहाज से सबसे बड़ी (143) जीत रही, वहीं दुनिया में यह जीत दूसरे नंबर पर रही सबसे बड़ी जीत श्रीलंका ने केन्या पर (172) दर्ज की थी. इसके अलावा भारत के खिलाफ टी20 मैचों में सबसे कम स्कोर (70)  का रिकॉर्ड भी बना जो इससे पहले इंग्लैंड (80) के नाम था. वहीं आयरलैंड का यह दूसरा सबसे कम स्कोर था उसने वेस्टइंडीज के खिलाफ इससे भी कम (68) रन बनाए हैं.
इसी मैच में भारत के लिए 12 छक्के लगे जिसका पांचवा नंबर है. इससे पहले चार बार 12 या उससे अधिक छक्के लग चुके हैं भारत के लिए. इसी के साथ 2013 रनों का स्कोर भारत को चौथा सबसे बड़ा स्कोर रहा जबकि भारत का सबसे बड़ा स्कोर 260 है.

इसके अलावा टीम इंडिया ने सबसे ज्यादा बार टी20 मैचों में 200 से ज्यादा रन बनाने के मामले में दक्षिण अफ्रीका की बराबारी (11 बार) कर ली. लेकिन 200 से ज्यादा रन बनाने के बाद जीत हासिल करने में टीम इंडिया टॉप पर आ गई है. अब टीम इंडिया की 11 में 10 ऐसी जीत हैं वहीं दक्षिण अफ्रीका केवल 8 बार ही 200 रन बनाकर जीत हासिल कर सका है.

इस सीरीज के पहले मैच में रोहित शर्मा और शिखर धवन ने टी20 में भारत के लिए सबसे बड़ी साझेदारी बनाने में दूसरा स्थान हासिल किया. उन्होंने 160 रनों की साझेदारी की जो रोहित और केएल राहुल की पिछले साल श्रीलंका के खिलाफ बनाई 165 रनों की साझेदारी से पांच रन कम रहीं.  वहीं दूसरे मैच में केवल 9 गेंदों पर 32 रन बनाने वाले हार्दिक ने टी20 में सबसे ज्यादा स्ट्राइक रेट से रन बनाने (30 से ज्यादा) के मामले में तीसरे नंबर आ गए. उनका स्ट्राइक रेट 355.55 रहा जो केवल न्यूजीलैंड के कोलिन मुनरो (श्रीलंका के खिलाफ 357.14) और भारत के युवराज सिंह ( इंग्लैंड के खिलाफ 362.50) के बाद है.

दूसरे मैच में सुरेश रैना के आतिशी 69 रनों की पारी के दौरान सुरेश रैना ने साल 2018 में अपने टी20 करियर के 1000 रन पूरे किए. उनसे  ऋषभ पंत (1125) हैं.  सुरेश रैना ने 1030 रन बनाकर अब तक किसी कैलेंडर वर्ष में दूसरा सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड बनाया. सबसे ज्यादा रन उन्होंने 2010 में 1042 रन बनाए हैं.

केविन ओ ब्रायन ने बनाया ये अनचाहा रिकॉर्ड
इस  सीरीज में केविन औ ब्रायन के नाम अनचाहा रिकॉर्ड बना जब हार्दिक पांड्या के  उन्हें दूसरे मैच में शून्य पर आउट किया. टी20 में शून्य पर सबसे ज्यादा बार आउट होने वाले वे दूसरे खिलाड़ी हो गए हैं वे 9 बार शून्य पर आउट हुए हैं जबकि श्रीलंका के तिलकरत्ने दिलशान सबसे ज्यादा 10 बार शून्य पर आउट हुए हैं.

वहीं उमेश यादव दो टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में सबसे बड़े अंतर के बाद खेले उन्होंने 65 मैचों बाद वापसी की जो किसी भी भारतीय खिलाड़ी के लिए सबसे ज्यादा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here