आज देश की 100 नदियों में प्रवाहित की जाएंगी अटल जी की अस्थियां

0
116

नई दिल्ली : भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियों को आज (गुरुवार को) देशभर की नदियों में प्रवाहित किया जाएगा. बुधवार(22 अगस्त) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली स्थित पार्टी कार्यालय पर प्रदेश अध्यक्षों को वाजपेयी की अस्थियों के कलश सौंपे थे.

राज्यों में अटलजी का अस्थि कलश लेकर पहुंचे प्रदेशाध्यक्ष
प्रधानमंत्री मोदी के हाथों से वाजपेयी का कलश लेने के बाद प्रदेश अध्यक्षों ने अपने-अपने राज्यों की ओर कूच किया. मध्य प्रदेश भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह पूर्व प्रधानमंत्री की अस्थियां लेकर राज्य की राजधानी भोपाल पहुंचे तो मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान वहां मौजूद थे. अस्थि कलश को राज्य में पार्टी मुख्यालय में रखा जाएगा और आगामी दिनों में अस्थियों को राज्य की दस नदियों में विसर्जित किया जाएगा. हिमाचल प्रदेश में, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने अस्थि कलश प्राप्त किया और इसे जनता के लिए चर्चित रिज में रखा गया. उधर, पंजाब की व्यास नदी में वाजपेयी की अस्थियों को प्रवाहित किया गया. हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि अस्थियों को 23 अगस्त को दो जगहों कुरुक्षेत्र के पेहोवा और यमुनानगर के हथिनीकुंड में नदियों में विसर्जित किया जाएगा.

बंगाल की खाड़ी में भी विसर्जित होंगी अस्थियां
राजस्थान के मंत्री अरुण चतुर्वेदी अस्थियां लेकर राजस्थान पहुंचे. मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पुष्कर, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन लाल सैनी कोटा और गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया बेनेश्वर धाम में अस्थियों को प्रवाहित करेंगे. बिहार की राजधानी पटना में, अस्थि कलश प्रदेश भाजपा मुख्यालय में रखा गया और अस्थियों को आज से नदियों में प्रवाहित किया जाएगा. वंगत नेता की अस्थियां बुधावर देर शाम को ओडिशा भी पहुंची और इसे आज पुरी में बंगाल की खाड़ी में विसर्जित किया जाएगा. पड़ोसी पश्चिम बंगाल में अस्थियां गंगासागर और प्रदेश की विभिन्न नदियों में कल प्रवाहित की जाएंगी.

हर राज्य में अस्थि कलश यात्रा के लिए खास कार्यक्रम का आयोजन
सभी बीजेपी अध्यक्ष अपने-अपने राज्यों में वाजपेयी की अस्थियों का कलश लेकर पहुंचे हैं, जिसके बाद हर राज्य में अस्थि कलश यात्रा निकाली जाएगी. पूर्व प्रधानमंत्री की इस कलश यात्रा के लिए राजधानियों, जिलों और तालुकों में भी कई कार्यक्रमों का आयोजन किया गया. बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि पार्टी का हर सिपाही एवं देश का हर नागरिक कालजयी व्यक्तित्व वाजपेयी जी को सम्मानपूर्वक श्रद्धांजलि अर्पित करना चाहते हैं.

100 नदियों में प्रवाहित की जाएंगी अस्थियां
इस क्रम में पार्टी ने देश के सभी राज्यों में दिवंगत वाजपेयी जी की अस्थि कलश यात्रा निकालने का निश्चय किया है ताकि राष्ट्र अपने महान सपूत को श्रद्धा-सुमन अर्पित कर सके. अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थि कलश यात्रा देश के सभी राज्यों में आदर और श्रद्धा के साथ निकाली जाएगी और राज्य की सभी पवित्र नदियों में पूरे विधि-विधान के साथ अस्थियां विसर्जित की जाएगी. वाजपेयी की अस्थियां देश की 100 से अधिक नदियों में प्रवाहित की जाएगी.

हरिद्वार में हुई थी वाजपेयी की अस्थियां प्रवाहित
उल्लेखनीय है कि 19 अगस्त को हरिद्वार (उत्तराखंड) में अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थि कलश यात्रा निकाली गई थी. तत्पश्चात हर की पौड़ी में गंगा में वाजपेयी की अस्थियां प्रवाहित की गई थीं. इस दौरान वाजपेयी के परिजनों के साथ बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित थे.

इंदिरा गांधी इनडोर स्टेडियम में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन
इससे पहले इंदिरा गांधी इनडोर स्टेडियम के के डी जाधव सभागार में वाजपेयी की याद में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया था जिसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सहित देश के सभी राजनातिक दलों और सामाजिक एवं धार्मिक संगठनों के वरिष्ठ सदस्यों ने वाजपेयी को श्रद्धा-सुमन अर्पित किए थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here