मुजफ्फरपुर बालिका गृह से मुक्त बच्चियों से CBI करा सकती है संदिग्धों की पहचान

0
97

मुजफ्फरपुर : बिहार के बहुचर्चित बालिका गृह यौन शोषण मामले की जांच कर रही सीबीआई गृह से मुक्त कराई गई बच्चियों से फिर करा सकती है तस्वीरों की पहचान. रेप कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के सहयोगियों की तस्वीर से पहचान करा सकती है. इससे पहले पुलिस ने बच्चियों को तस्वीर दिखाकर पहचान कराई थी.

वहीं, पुलिस मुख्यालय के निर्देश पर जिला पुलिस ब्रजेश ठाकुर की संपत्ति की जांच कर रही है. जांच के बाद अवैध संपत्ति जब्त की जा सकती है. पुलिस संपत्ति का डाटा खंगालने में जुटी है.

शिभा की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कर रही छापेमारी
बालिका गृह की बच्चियों का नाम सार्वजनिक करने वाली शिभा कुमारी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है. शिभा निलंबित अधिकारी रवि रौशन की पत्नी है. सुप्रीम कोर्ट की टिपण्णी के बाद पुलिस ने एफआईआर दर्ज किया था.

सीबीआई की गिरप्त से बाहर है मधु
वहीं, ब्रजेश ठाकुर की राजदार मधु आज भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक उसने स्वास्थ्य विभाग को एक ई-मेल भेजी है. मधु की गिरफ्तारी सीबीआई के लिए चुनौती साबित हो रही है.

मुजफ्फरपुर रेप कांड मामले में हर दिन नए-नए खुलासे हो रहे हैं. अब सीबीआई ब्रजेश ठाकुर के नजदीकी संजय उर्फ झूलन के बारे में पता चला है. झूलन प्रात: कमल का ऑफिस संभालता था. इसके साथ ही वह ब्रजेश ठाकुर के एनजीओ के लिए भी काम करता था.

पटना ऑफिस में छापेमारी के बाद झूलन की तलाश तेज हो गई है. माना जा रहा है कि झूलन के गिरफ्तार होने से कई राज और भी खुल सकते हैं क्योंकि झूलन के कई बड़े लोगों से संबंध की बात सामने आई है. फिलहाल सीबीआई की टीम को मुजफ्फरपुर मामले में झूलने के साथ कई और लोगों की तलाश है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here