केन्द्र ने लिया निर्णय, ‘केरल में भेजी जाएंगी एनडीआरएफ की 35 और टीमें’

0
89

नई दिल्ली: केन्द्र ने बारिश से प्रभावित केरल में राहत एवं बचाव अभियान को तेज करने के लिए गुरुवार को करीब एक हजार जवानों वाली एनडीआरएफ की 35 और टीमों को भेजने का फैसला लिया. राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन समिति (एनसीएससी) की गुरुवार को दिन में हुई बैठक के बाद सरकार ने पहले 12 नई टीमों को भेजा था और इसके बाद अभियान को तेज करने के लिए 23 और टीमों को भेजने का निर्णय लिया.

गुरुवार को पहुंचीं एनडीआरएफ की 12 टीमें 
एनडीआरएफ के महानिदेशक संजय कुमार ने कहा, ‘‘गुरुवार शाम तक पहली 12 टीम केरल पहुंच जाएंगी. बाकी 23 टीमों को भी भेजा जा रहा है. ये टीम दिन और रात दोनों में राहत एवं बचाव अभियान, चिकित्सा सहायता और खाद्य सामग्री के वितरण में राज्य सरकार के अधिकारियों की मदद करेगी.’’ उन्होंने बताया कि गाजियाबाद से छह और गुजरात में वडोदरा से छह टीमों को भेजा गया था. डीजी ने कहा, ‘‘केरल में पहले से ही 18 टीम मौजूद हैं, जो युद्ध स्तर पर राहत एवं बचाव अभियान में लगी हुई है.’’

बाढ़ में फंसे 707 लोगों को NDRF ने निकाला
एनडीआरएफ के एक प्रवक्ता ने बताया कि 23 अन्य टीम पटना (बिहार), हरिनघाता (पश्चिम बंगाल), मुंडाली (ओडिशा) और भठिंडा (पंजाब) से भेजी जा रही है. उन्होंने बताया कि अंतिम रिपोर्ट मिलने तक एनडीआरएफ की टीमों ने कुल 707 लोगों को बाहर निकाला है. इनमें पथनमथिट्टा से 172, एर्नाकुलम (151), कोझीकोड़ (99), अलापुझा (202) और त्रिशुर (83) है. प्रवक्ता ने बताया, ‘‘इन स्थानों पर लोगों को बाहर निकाले जाने का अभियान अभी चल रहा है.’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here