बकिंघम पैलेस में घुसने पर बेघर व्यक्ति को जेल, लगा था ये आरोप

0
107

लंदन: पिछले महीने बकिंघम पैलेस में घुसकर कांच की अलमारी में सोने वाले एक बेघर व्यक्ति को आज गैरकानूनी तरीके से महारानी एलिजाबेथ के घर में घुसने पर जेल की सजा सुनाई गई. लंदन की वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट अदालत को कल बताया गया कि स्टीवन लॉलर 16 जुलाई को धातु की रेलिंग पार करके पैलेस में घुसा था और उसने सोने के लिए एक अलमारी का इस्तेमाल किया था.

सुरक्षाकर्मियों ने सीसीटीवी में 44 साल के इस व्यक्ति को सोते हुए देखकर उसे गिरफ्तार किया. उस समय महारानी घर में नहीं थीं. लॉलर ने संरक्षित स्थल पर वस्तुओं को नुकसान पहुंचाने और गैरकानूनी प्रवेश का अपराध कबूला और उसे गैरकानूनी प्रवेश के लिए 28 दिन और वस्तुओं को नुकसान पहुंचाने के लिए 21 दिन की जेल की सजा सुनाई गई। दोनों सजाएं एक साथ चलेंगी.

बकिंघम पैलेस की दीवार फांदने की कोशिश कर रहा व्यक्ति गिरफ्तार
आपको बता दें कि पिछले साल लंदन की पुलिस ने बकिंघम पैलेस के बाहर स्थित एक दीवार को फांदने की कोशिश करने के आरोप में 24 वर्षीय एक व्यक्ति को गिरफ्तार करने का दावा किया था. मेट्रोपॉलिटन पुलिस के रॉयल्टी एवं स्पेशलिस्ट प्रोटक्शन कमांड के अधिकारियों ने रविवार शाम पैलेस के निकट स्थित एक बाड़े को पार करके पैलेस के बाहर स्थित दीवार को फांदने की कोशिश कर रहे व्यक्ति को तीन मिनट के भीतर गिरफ्तार कर लिया.

बकिंघम पैलेस ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का आधिकारिक आवास है. मेट्रोपॉलिटन पुलिस ने मंगलवार को एक बयान में बताया कि संदिग्ध के पास कोई हथियार नहीं था. उन्होंने बताया कि इस घटना को आतंकवादी घटना के रूप में नहीं देखा जा रहा है.ब्रिटेन की महारानी ने अरुणिमा कुमार से सीखी नृत्य की मुद्राएं. पुलिस के अनुसार संदिग्ध के मानसिक स्वास्थ्य की जांच की गई है और उसे सशर्त जमानत पर रिहा किया गया.हाल के वर्षों में कई लोगों ने अनधिकृत तरीके से महल में प्रवेश करने की कोशिश की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here