MP: रोप स्किपंग और ओलंपियाड प्रतियोगिता में शामिल होने आई नाबालिग खिलाड़ियों से छेड़छाड़

0
100

नई दिल्ली/होशंगाबादः प्रदेश में छात्राओं के साथ छेड़छाड़ के मामले की संख्या लगातार बढ़ ही जा रही हैं. और तो और राह चलते मनचलों के हौंसले इतने बुलंद हो गए हैं कि लड़कियां चाहे अकेले हों या ग्रुप में ये अपनी गंदी हरकतों से वाज नहीं आते. हाल ही में होशंगाबाद में चल रही 62वीं राज्यस्तरीय रोप स्किपिंग, योग और ओलंपियाड प्रतियोगिता में शामिल होने आई नाबालिक छात्राओ से छेड़छाड़ की घटना की बात सामने आई है. जब खिलाड़ी छात्राएं सड़क के रास्ते मेस से स्कूल जा रही थीं तब कुछ मनचलों ने बाइक से उनका बार-बार रास्ता रोकने की कोशिश की. यही नहीं मनचले लड़कियों का पीछा करते-करते स्कूल तक जा पहुंचे और उन पर भद्दे कमेंट भी किये.

मामले की जांच कर रही हैं डिप्टी कलेक्टर निधि कोहल
स्कूल पहुंचकर जब छात्राओं ने अपने कोच से इसकी शिकायत की तो उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों से इस मामले पर बात की. जिसके बाद अब डिप्टी कलेक्टर निधि कोहल मामले की जांच कर रही हैं. बता दें नाबालिग खिलाड़ियों के साथ भोपाल से कोई महिला कोच भी उनके साथ नहीं है. दरअसल, घटना उस वक्त की है जब सभी छात्राएं छात्राएं सेंटपाल स्कूल से खेल स्थल नर्मदा कॉलेज अकेले आ रही थीं. इसी दौरान बाइक सवार युवकों ने खिलाडियो पर भद्दे कमेंट किए और अभद्रता की.

हम सभी लड़कियां यहां भोपाल से खेलने आई हैं
वहीं इसकी शिकायत खिलाड़ियों ने भोपाल में अपने कोच को बताई. गुरुवार सुबह खेल स्थल पर पहुची छात्राओं ने व्यवस्था में लगे अधिकारियों से पूरे मामले की शिकायत की है. छात्राओं ने बताया कि हम सभी लड़कियां यहां भोपाल से खेलने आई हैं, लेकिन हमारे साथ कोई भी महिला ऑफिशियल नहीं आई है. इस कारण हम दो दिन से अकेले ही स्कूल में रहे हैं. स्थानीय अधिकारियों ने वाहन की व्यवस्था भी नहीं की, इस कारण हमें खेल मैदान तक पैदल आना-जाना पड़ रहा है.

बाइक सवार हमें घेरकर चल रहे थे
खिलाड़ियों ने आगे कहा कि जब हम खेल मैदान पर आ रहे थे तो बाइक सवारों ने हमारा बार-बार पीछा किया और गलत कमेंट भी किए. वह हमें लगातार घेरकर चल रहे थे. हम सभी लड़कियां उनकी हरकतें देखकर डर गए थे जिसके चलते हमने भोपाल मे अपने कोच को इस घटना की पूरी जानकारी दी. उन्होंने यहां के खेल अधिकारियों को पूरे मामले से अवगत कराया तो शिक्षा विभाग के अधिकारी कहने लगे कि हम झूठ बोल रहे हैं. इधर छात्राओं की शिकायत पर डिप्टी कलेक्टर निधि गौहल ने मौके पर पहुंचकर जांच की और खिलाड़ियां से चर्चा की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here