यरुशलम: इजरायली सेना ने गाजा में हमास चौकी पर किया हमला, 220 से अधिक घायल

0
104

यरुशलम: इजरायली सेना ने शुक्रवार को दक्षिणी गाजा पट्टी में हमास सैन्य चौकी को तबाह कर दिया. इजरायली सुरक्षा बल (आईडीएफ) द्वारा जारी बयान में यह बात कही गई. समाचार एजेंसी सिन्हुआ की खबर के मुताबिक, दक्षिणी गाजा से इजरायल में कई फिलिस्तीनियों द्वारा घुसपैठ के बाद आईडीएफ टैंक से यह हमला किया गया.

घुसपैठियों ने सीमा बाड़े इलाके में बम और विस्फोटक उपकरण फेंका था. सेना के मुताबिक, गाजापट्टी की सीमा से सटी पांच जगहों पर शुक्रवार को करीब आठ हजार फिलीस्तीनी एकत्र हुए सुरक्षा अवसंरचनाओं में तोड़फोड़ का प्रयास किया. इजरायली मीडिया ने गाजा स्वास्थ्य मंत्रालय के हवाले से कहा कि गाजापट्टी सीमा पर भिड़ंत के दौरान 25 वर्षीय फिलीस्तीनी की मौत हो गई और 220 से ज्यादा घायल हुए.

इजरायली सेना ने फलस्तीनी किशोर को गोली मारी
इजरायल और फलस्‍तीन के बीच गृह युद्ध लगातार जारी है. इसी को लेकर फलस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को बताया कि इजरायली सैनिकों ने इजरायल अधिकृत पश्चिमी तट में रविवार रात में छापेमारी के दौरान एक फलस्तीनी किशोर को गोली मार दी जिससे उसकी मौत हो गई. बता दें कि इजरायल और फलस्‍तीनियों के बीच कई वर्षों से जमीन और आधिपत्‍य को लेकर जंग चल रही है. फलस्‍तीनी आतंकी संगठन इजरायल में अधिकतर हमले करते रहते हैं. उनसे निपटने के लिए वहां की सेना ऐसे छापेमारी अभियान नियमित रूप से चलाती रहती है.

मंत्रालय ने जानकारी देते हुए बताया कि 15 साल के अरकान मिजहर को पश्चिमी तट के बेथलेहम के धेशेह शरणार्थी शिविर में झड़प के दौरान सीने में गोली लग गई. उसका अंतिम संस्कार सोमवार शाम को किया जाएगा. इजरायली सेना का कहना है कि उसके सैनिक इजरायल अधिकृत पश्चिमी तट पर स्थित एक शिविर में घुसे और आतंकवादी गतिविधि होने के संदेह में दो लोगों को गिरफ्तार किया.

सेना ने एक बयान में बताया है कि छापेमारी अभियान के दौरान इलाके में दंगा भड़क गया. इसमें फलस्तीनियों ने इजरायली सैनिकों पर पत्थर फेंके और बम एवं हथगोले फेंके. वहां की मौजूदा स्थिति चिंताजनक हो गई. फलीस्‍तीनियों की भीड़ ने सेना पर बुरी तरह हमला किया. सेना के बयान में बताया गया है कि भीड़ के उपद्रव से बचने के लिए इजरायली सैनिकों ने प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाईं. यह शिविर पश्चिमी तट के उस इलाके में आता है जिसपर फलस्तीनियों का नियंत्रण है लेकिन इजरायली सेना लगातार ऐसे इलाकों में छापेमारी करती रहती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here