कोटा: रिश्वतखोरी के मामले में गिरफ्तार हुआ पुलिस कांस्टेबल, एसीबी टीम ने रंगे हाथ पकड़ा

0
111

कोटा/ हिमांशु मित्तल: एसीबी की टीम ने पुलिस कांस्टेबल को ₹10,000 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. कॉन्स्टेबल ने यह रिश्वत की राशि एक ऑटो चालक के पड़ौसी से ली थी. जिसे बुधवार रात को रिश्वतखोर कांस्टेबल ने धारदार हथियार के साथ पकड़ा था. वहीं ऑटो को जप्त कर लिया था. उस जप्त ऑटो को छुड़ाने की एवज में कांस्टेबल ने ऑटो चालक के पड़ोसी से यह रिश्वत ली है.

जानकारी के अनुसार प्रेम नगर प्रथम निवासी राजेश राठौर सवारी ऑटो चलाता हैं. जिसे बुधवार रात को बोरखेड़ा थाने के कॉन्स्टेबल नरेंद्र सिंह ने संदिग्ध मिलने पर रुकवाया था और उसके पास से एक धारदार हथियार बरामद हुआ था. जिसके बाद कांस्टेबल नरेंद्र ने राजेश राठौर को गिरफ्तार कर लिया और ऑटो को जप्त कर थाने ले गया था.

गुरुवार को जब ऑटो चालक का पड़ोसी मोहम्मद आमीन ऑटो को छुड़वाने आया तो कांस्टेबल नरेंद्र सिंह ने 40,000 रुपये की रिश्वत मांगी. इसके बाद मोहम्मद अमीन ने भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो को इस बारे में परिवाद दिया. एसीबी ने शिकायत का सत्यापन करवाया. जिसमें 30,000 रुपये में ऑटो छोड़ने के लिए नरेंद्र सिंह तैयार हुआ. जिसकी पहली किस्त गुरुवार को ही देना तय किया गया.

इसके बाद एसीबी की टीम ने एडिशनल एसपी ठाकुर चंद्रशील कुमार के निर्देश पर कॉस्टेबल नरेंद्र सिंह को ट्रैप करने के लिए जाल बिछाया. नरेंद्र सिंह ने परिवादी मोहम्मद अमीन को रिश्वत की राशि लेकर थाने के पास बारां रोड स्थित धन लक्ष्मी प्रॉपर्टीज के बाहर बुलाया. वहीं उससे रिश्वत की पहली किस्त 10,000 रुपये ले ली. मोहम्मद अमीन रिश्वत की राशि देकर आया और उसने एसीबी की टीम को इशारा कर दिया. इसके बाद टीम ने मौके पर पहुंचकर रिश्वतखोर कांस्टेबल नरेंद्र सिंह को एसीबी के निरीक्षक अजीत बागड़ोदिया ने गिरफ्तार कर लिया. वहीं उसके पास से 10,000 रुपये भी बरामद कर लिए. एसीबी की टीम अब नरेंद्र के घर और खाते आदि की जांच में जुट गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here